मिर्च की कीट और बीमारियां

61

मिर्च का फल वेधम Chilli Fruit Borer

नुकसान की प्रवृत्ति और निशान:

  • हेलिकोवर्पा आर्मिर्जेरा और स्पोड़ोपटेरा लीटूरा फलो के पर्णवृत्त में छिद्र कर अंदर भोजन करती है |

उपचार :

  1. Coragen 6 ml /pump
  2. Trizophod 40 ml /pump
  3. Fame 5 ml /pump

 

 

मिर्च थिर्प्स Chilli Thrips

नुकसान की प्रवृत्ति और निशान:

  • यह पत्तियों को खुरचता तथा उनकी कोशिकाओ से रस  चुसता है जिससे पत्तिया उपर की और घूम जाती है |
  • थ्रिप्स के उग्र आक्रमण से सीमांत पत्तीया तथा कालिया कमजोर हो जाति है परिणाम स्वरुप पूरी फसल क्षतिग्रस्त हो जाती है |
  • यह Chilli leaf curl virus को फैलाते है |

उपचार :

इनमे से किसी एक का छिड़काव करे |

  1. Thiamethoxam 7 gm /pump
  2. Karate/ Metador 20 ml/pump
  3. Ulala 5 gm /pump  

 

 

श्यामव्रण Die Back / Anthracnose 

नुकसान की प्रवृत्ति और निशान:

  • डाईबँक का संक्रमण सामान्यत : पुष्प आने के समय ही होता है | बीमार पौधे के फूल सूख जाते है | यह सुखना फुल से तने की ओर फैलता जाता है | परिणाम स्वरूप शाखाये सूखने लगती है | पौधे की सभी शाखाये सूखने लगती है | पौधे की सभी शाखाए तथा उपरी भाग सूख जाता है |
  • यह बिमारी सामान्यत: पके हुए लाल फलो पर दिखाई देती है | हरे फलो पर समान्य तौर पर आक्रमण नहीं होता | छोटे , काले , गोलाकार धब्बे फलो की त्वचा पर दिखाई देते है और फैलकर दीर्घवृत्ताकार हो जाते है | अत्याधिक संक्रमित फल सामान्य लाल से भूरे रंग का और हल्के सफ़ेद रंग के हो जाते है तथा सिकुड़कर शूख जाते है |

उपचार :

  1. Ridomil 25 g
  2. Copper 30 g
  3. Headline 15 g
  4. Bavistine 15 g